0.6 C
New York
Friday, December 2, 2022

Buy now

मध्यप्रदेश केसला ब्लॉक सहेली स्टेडियम मे राष्ट्रीय यदुवंशम् सेना ने अहिर,यादव शौर्य दिवस मनाया ।

१८ नवंबर १९६२ रेजांगला अहिर यादव शौर्य द्वारा आयोजित यादव समाज के महासम्मेलन रेजांगला युद्ध में शहीद सैनिकों को श्रद्धांजलि तथा सैनिक सम्मान समारोह , प्रतिष्ठान अतिथि सम्मान समारोह , प्रतिभा सम्मान समारोह पर कार्यक्रम नर्मदापुरम जिले के केसला ब्लॉक सहेली स्टेडियम में संपन्न हुआ शुभारंभ पर सेना में अहिर रेजिमेंट की मांग को लेकर राष्ट्रीय यदुवंशम् सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष माननीय इंजी.पवन यादवजी ने माननीय रक्षामंत्री के नाम अपने खुन से रक्तपत्र लिखकर रेजिमेंट की मांग की ।

१८ नवंबर १९६२ मे रेजांगला युद्ध में शहीद सैनिकों को श्रद्धांजलि कार्यक्रम में उपस्थित होकर भव्यता प्रदान करने हेतु कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में श्री.सभाजित यादव जी पुर्व रिटायर कमिश्नर , श्री महेंद्र प्रताप सिंह यादवजी पुर्व नगराध्यक्ष नर्मदापुरम मध्यप्रदेश, पुर्व कैबिनेट मंत्री जिला प्रभारी भोपाल भाजपा श्री योगेन्द्र सिंह मण्डलोईजी , मध्यप्रदेश अध्यक्ष यादव महासभा पुर्व जिला अध्यक्ष नर्मदापुरम सहकारिता श्री यश भारतीय जी , मध्य प्रदेशअध्यक्ष समाजवादी पार्टी युवाजन सभा श्री सुनील यादव जी , सक्रिय सामाजसेवी श्री अजित सिंह मण्डलोईजी ,जिला पंचायत सदस्य नर्मदापुरम् श्री मृगेंद्र सिंह मण्डलोईजी , राष्ट्रीय संरक्षक राष्ट्रीय यदुवंशम् सेना श्री प्रेमशंकर वर्माजी विधायक सिवनी मालवा आदि सभी अतिथि एवं संगठन एवं समाज के हजारों कार्यकर्ताओ द्वारा मां भारती के यदुकुल के वीर सपूतों को श्रद्धांजलि अर्पित की साथ ही विश्व की सबसे महानतम भारतीय सेना में अपना योगदान देकर देश की रक्षा करने वाले वीर सेनिको को संगठन द्वारा सर्वोच्च श्रीकृष्ण यादव सम्मान के साथ ही यदुकुल की आन बान शान पितांबर गमझे से सम्मानित किया साथ ही शिक्षा के क्षेत्र में अपने उत्कृष्ट कार्यों द्वारा अपने परिवार समाज का नाम रोशन करने वाले प्रतिभावान छात्र-छात्राओं को प्रशस्तिपत्र से सम्मानित कर उज्जवल भविष्य की मंगल कामनाएं की साथ ही प्रतिष्ठान के साथ ही सफल आयोजन के साथ ही विश्व की सबसे महानतम भारतीय सेना में अन्य जातियों की रेजिमेंट हे सेना मे यादव समाज के साथ हो रहे पक्षपात को लेकर सैना में अहीर यादव रेजिमेंट के गठन की मांग को लेकर सभा में उपस्थित सभी यादव समाज के स्वजातीय साथियों ने एक स्वर में रेजिमेंट की गठन की मांग की संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष माननीय पवनजी यादव ने अपने उद्बोधन में समाज को संगठित होकर मुट्ठी की तरह एक होकर रहने की बात कही साथ ही बताया गया कि देश की सबसे महानतम लड़ाई फिर वो चाहे प्रथम विश्व युद्ध से लेकर द्वीतिय १८५७ की क्रांति १९४७ का स्वतंत्रता संग्राम नसीबपुर का युद्ध जिसमें यादव समाज के ५००० वीर शहीद हुए कारगिल युद्ध,1967का नाथुला युद्ध,संसद भवन हमले से लेकर 18 नवंबर1962 का वो रेजांगला युद्ध जिसमें कुमाऊं रेजिमेंट के १२० अहिर यादव सैनिको ने रेजांगला में चीन के ५००० से अधिक सैनिकों को खदेड़ कर १५०० से अधिक सैनिकों को मारकर अपनी मात्रभूमि पर चोकी पर कब्जा नहीं होनै दिया और आज लद्दाख अगर भारत का हिस्सा है तो वह उन‌ १२० अहिर यादव सैनिकों की वजह से है जो अंतिम सांस तक अंतिम गोली तक लडै लड़ते लड़ते शहीद हो गए उन वीर सैनिको के सम्मान के लिए सेना में अहिर रेजिमेंट का गठन न्याय संगत हक की मांग है । पवन यादवजी राष्ट्रीय अध्यक्ष राष्ट्रीय यदुवंशम् सेना ने कहा की तो भारत सरकार सेना में सभी बनी सभी जातिगत रेजिमेंट को खत्म कर सिर्फ भारतीय सेना करें या तो सभी जातियों की तरह सैना में अहीर यादव रेजिमेंट का गठन करे ।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,592FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles