• मालाड पोस्ट ऑफिस में 40 साल काम करने पर रिटायर हुए चंद्रकांत शिरसाट

मुंबई। बरसात, ठंडी व गर्मी की बिना परवाह किए हमेशा पोस्टमैन लोगो को पत्र इत्यादि घर तक पहुँचाते है। ऐसे ही एक मेहनती व प्रतिभाशाली पोस्टमैन से ओवरसियर बने चंद्रकांत गंगाराम शिरसाट है।जो कि पिछले 40 वर्षों तक मालाड (वेस्ट) में जकरिया रोड पर स्थित मालाड डिलीवरी पोस्ट ऑफिस में काम किया और 31 मई 2022 को रिटायर हुए।

इस अवसर पर मालाड डिलीवरी पोस्ट ऑफिस के सभी कर्मचारियों द्वारा एक भव्य विदाई समारोह का आयोजन किया गया था। और पोस्ट ऑफिस को सजाया गया था व बेंजो पार्टी को बुलाया गया था। कार्यक्रम के दौरान पोस्टल पोस्टमास्टर संध्या झारापकर द्वारा ओवरसियर शिरसाट को शाल, नारियल व पुष्पगुच्छ देकर सम्मानित किया गया और लोंगो ने गिफ्ट दिया।सभी पोस्ट ऑफिस के कर्मचारियों ने, नेशनल एसोसिएशन ऑफ पोस्टल एम्प्लाइज के व अन्य यूनियन के पदाधिकारियों ने अपने अपने विचार व्यक्त किये। पोस्टमैन और सभी कर्मचारी बहुत भावूक हो गए। एक साथ ख़ुशी और गम दोनों का माहौल बन गया।

चंद्रकांत शिरसाट ने कहा,” 40 साल तो बहुत अच्छे से गुजरा लेकिन उसके बाद के 6 महीने गुजारना काफी मुश्किल रहा। सबको छोड़ते हुए दुख तो हो रहा है लेकिन क्या कर सकते है? मैं सभी को साथ देने के लिए धन्यवाद देता हूँ।”

इस अवसर पर पोस्टऑफिस के व यूनियन के संतोष लाड,आर एन राहटे, संतोष पास्ते, वी डी नाईक, संजय कालोखे,सदानंद नाईक अपराज इत्यादि जैसे कई पोस्टमैन व पदाधिकारी उपस्थित रहे और कार्यक्रम में सफल बनाया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Previous post आम जन की सवारी है साइकिल
Next post भ्रष्टाचार के खिलाफ निष्पक्ष कार्रवाई का दौर