जमशेदपुर: जमशेदपुर के शारदामणि गर्ल्स हाई स्कूल (Saradamoni Girls High School) के कक्षा नौवीं की छात्रा ऋतु मुखी (Student Ritu Mukhi) ने छठे दिन टाटा मुख्य अस्पताल (Tata Hospital) में दम तोड़ दिया. चिकित्सकों के तमाम प्रयासों के बाद भी ऋतु को नहीं बचाया जा सका. उधर ऋतु की मौत के बाद टीएमएच की सुरक्षा बढ़ा दी गई. जिले के तमाम आलाधिकारी टीएमएच में कैंप कर रहे हैं.

यह भी पढ़ें: Google को झटका, लगा ₹1337 करोड़ का जुर्माना

बता दें कि बीते शनिवार को चीटिंग के शक में शिक्षिका ने स्कूल में छात्रा के कपड़े उतरवाए थे. जिससे आहत होकर छात्रा ने घर पहुंच कर खुद को आग के हवाले कर दिया था. लगभग 90 फ़ीसदी जली हालत में ऋतु को टाटा मुख्य अस्पताल में भर्ती कराया गया था. हालांकि जिला प्रशासन एवं सरकार के तमाम प्रयासों के बाद भी ऋतु को बचाया नहीं जा सका.

यह भी पढ़ें: Airlines कंपनियों ने 3 गुना बढ़ाए टिकटों के दाम

उधर दोषी शिक्षिका को पुलिस (Police) ने गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया है. जबकि स्कूल की प्रिंसिपल को निलंबित कर दिया गया है. घटना के बाद परिजनों में मायूसी छा गई. हालांकि परिजन जिला प्रशासन और सरकार के प्रयासों से संतुष्ट थे, मगर नियति को कौन टाल सकता है. ऋतु अब इस दुनिया में नहीं रही.

इस संबंध में जानकारी देते हुए जमशेदपुर उपायुक्त विजया जाधव (Deputy Commissioner Vijaya Jadhav) ने बताया कि छात्रा का रात में ही पोस्टमार्टम (Post-Mortem) कराया जाएगा. इसके लिए मेडिकल बोर्ड का गठन किया गया है. छात्रा के परिजनों को हर जरूरी सुविधा मुहैया कराई जाएगी. वहीं छात्रा की मां ने बताया कि जिस तरह से उसकी बेटी मरी है. उसके दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए.

By VASHISHTHA VANI

हिन्दी समाचार पत्र: Latest India News in Hindi, India Breaking News in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *